hindu temple attacked in LOUISVILLEआतंकवाद

अमेरिका – इसाई कट्टरपंथियों ने हिन्दू मंदिर पर किया था हमला, पुरे शहर के लोगो ने की साफ़ सफाई

हमे सपोर्ट करें, इसे शेयर जरुर करें
  • 1.4K
    Shares

हिन्दू धर्म कभी कहीं पर मिशनरी नहीं भेजता, न ही हिन्दू धर्म के लोग किसी प्रकार का जिहाद करते है दूसरों को धर्मान्तरित करने का

यूरोप अमेरिका इत्यादि में लोग अपनी मर्जी से हिन्दू धर्म को जानकार खुद ही आकर्षित हो कर हिन्दू बनते है, हिन्दू कभी छल, लालच देकर किसी का धर्मांतरण नहीं करते

और जैसे जैसे यूरोप अमेरिका में लोग मॉडर्नबाजी से बोर हो रहे है, वो अध्यात्म, योग की तरफ, शांति की तरफ बढ़ रहे है और ऐसे में हिन्दू धर्म के प्रति लोगो का झुकाव बढ़ता जा रहा है

अमेरिका और यूरोप में वहां के लोग हिन्दू धर्म की तरफ आकर्षित होते जा रहे है, अमेरिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया में हिन्दू धर्म का प्रभाव बढ़ रहा है और इसी कारण वहां के इसाई कट्टरपंथी बौखला भी रहे है

इसी बौखलाहट में अमेरिका के लुइसविल के स्वामीनारायण मंदिर पर इसाई कट्टरपंथियों ने हमला किया था, मंदिर में देवी देवताओं की मूर्तियों, सामान के साथ तोड़फोड़ की थी, साथ ही काले पेंट से दीवार पर “जीजस ही भगवान है, सिर्फ जीजस भगवान् है” और अन्य तरह के सन्देश लिखे थे, हिन्दू देवी देवताओं की तस्वीरों पर भी काला पेंट किया था

इस मामले में पुलिस ने 17 साल के 1 कट्टरपंथी को गिरफ्तार किया है और बाकियों की तलाश जारी है, पर इस घटना के बाद वहां के हिन्दू और अधिक एकजुट हो गए, और अब तो पुरे लुइसविल शहर के लोग इस मंदिर आने लगे है, वहां के गवर्नर और विपक्षी पार्टी के नेता भी लोगो की भीड़ को देखते हुए यहाँ पहुँच रहे है

लुइसविल शहर में इस हिन्दू मंदिर को वहां के लोगो ने साफ़ किया, इसपर विडियो रिपोर्ट देखिये

लोगो ने वहां के हिन्दुओ का समर्थन किया, और मंदिर में नफरतबाजी के खिलाफ लोगो ने प्रण भी लिया, हर उम्र के लोग मंदिर पहुँच रहे है

लोगो ने पुरे मंदिर को साफ़ किया, काले पेंट को दीवारों और तस्वीरों से सावधानी से साफ़ किया गया, और पुरे मंदिर को पहले की तरह किया गया, साथ ही साथ हिन्दू देवी देवताओं की पूजा और आरती भी सभी लोगो ने की

कट्टरपंथियों ने हिन्दुओ को डराने के मकसद से इस तरह के हमले को अंजाम दिया था, पर हिन्दू धर्म के प्रति वहां के लोगो का आकर्षण और बढ़ गया, और अब और अधिक लोग मंदिर आने लगे है, और कट्टरपंथियों को जल्द जवाब भी अपने आप मिलेगा जब लोग अपने मन से खुद ही और अधिक हिन्दू बनना शुरू कर देंगे