Press "Enter" to skip to content

JNU के देशद्रोहियों के बचाव में केजरीवाल ने लगाया जोर, दिल्ली पुलिस को नहीं दे रहे चार्जशीट पर NOC

हमे सपोर्ट करें, इसे शेयर करें
  • 625
    Shares

पश्चिम बंगाल में मोमता बनर्जी संविधानिक पद का इस्तेमाल कर खुलेआम लोकतंत्र की रोजाना हत्या कर रही है, और विपक्षी नेताओं की रैली को कैंसिल करवा रही है

जबकि दिल्ली में मोमता बनर्जी के साथ हमेशा खड़े रहने वाले मुख्यमंत्री केजरीवाल भी अपने पद का देशद्रोहियों को बचाने के लिए पूरा उपयोग कर रहे है

आपको याद होगा दिल्ली पुलिस ने पिछले दिनों दिल्ली हाई कोर्ट में JNU गैंग के खिलाफ अपनी जांच पूरी करके चार्जशीट दाखिल की थी, ताकि कोर्ट में JNU गैंग के खिलाफ पूरा मामला चल सके

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से कहा था की इस चार्जशीट में दिल्ली सरकार का NOC भी लगाना अनिवार्य है, इसके बाद दिल्ली पुलिस ने NOC के लिए केजरीवाल सरकार के सामने एप्लीकेशन लगाया

पर केजरीवाल ने अब JNU गैंग को बचाने के लिए मुख्यमंत्री के पद का इस्तेमाल करते हुए पूरा जोर लगा दिया है, और NOC पर कुंडली मारकर बैठ गए है

केजरीवाल सरकार ने JNU के देशद्रोहियों के खिलाफ दिल्ली पुलिस को चार्जशीट पर NOC देने से इंकार कर दिया है, अधिकारिक रूप से तो केजरीवाल ने लिखित में मना नहीं किया है, पर जिस तरह वो NOC को लटकाए हुए है, उन्होंने पूरा जोर लगा दिया है की देखते है दिल्ली पुलिस कैसे चार्जशीट दाखिल करती है

1 महीने से भी ज्यादा का समय हो गया पर केजरीवाल ने NOC नहीं दी है, और अब इसे लेकर बीजेपी की एक टीम दिल्ली के उप राज्यपाल से भी मिलने वाली है

बीजेपी से प्राप्त जानकारी के अनुसार बीजेपी की टीम उपराज्यपाल से मिलकर मांग करेगी की उपराज्यपाल दिल्ली सरकार को निर्देश दे ताकि दिल्ली पुलिस को चार्ज शीट पर NOC मिल जाये और वो उसे कोर्ट में दाखिल कर सके, क्यूंकि केजरीवाल खुद को चार्जशीट पर NOC देने वाले नहीं है और देशद्रोहियों को बचाने के लिए पूरा जोर लगा रहे है

Comments are closed.