Pranab Mukherjee on Election Commission
Pranab Mukherjee on Election Commission
in

प्रणब मुखर्जी ने राहुल गाँधी को जड़ा करारा तमाचा, कहा – चुनाव आयोग बिलकुल निष्पक्ष, न फैलाया जाये भ्रम

प्रणब मुखर्जी ने कहा की – पिछले 70 सालों से निष्पक्ष रहा है चुनाव आयोग, राजनीती के लिए बदनाम का की जाये संस्था

सपोर्ट करें, इसे शेयर जरुर करें
  • 13K
    Shares

पूर्व राष्ट्रपति और भारत रत्न प्रणब मुखर्जी ने ऐसे तमाम लोगो के मुह पर करारा तमाचा जड़ दिया है जो की अपनी राजनीती के लिए भारत की एक श्रेष्ट संस्था को कई दिनों से बदनाम कर रहे है

भारत का चुनाव आयोग पूरी दुनिया में श्रेष्ट है, और भारत के लोकतंत्र की पूरी दुनिया में तारीफ भी होती है, कई सारे देश जिसमे इस्लामिक देश भी शामिल है उन्होंने अपने यहाँ भारत के चुनाव आयोग की देख रेख में चुनाव भी संपन्न करवाए है

पर अपनी राजनीती के लिए पिछले कई दिनों से चुनाव आयोग को कई सारी राजनितिक पार्टियाँ बदनाम कर रही है इसमें सबसे बड़ा नाम कांग्रेस का ही है, जिसके नेता जीत पर कहते है की लोकतंत्र की जीत हुई, पर जहाँ भी हारते है कहते है की चुनाव आयोग निष्पक्ष नहीं है, EVM ख़राब है

पिछले दिनों तो कपिल सिब्बल लन्दन में भी कांग्रेस द्वारा एक आयोजित कार्यक्रम में जाकर भारत के चुनाव आयोग की इंटरनेशनल बदनामी करवाने की कोशिश भी कर चुके है

राजस्थान में बाई पोल जीते तो लोकतंत्र जीत गया, हरियाणा में सुरजेवाला हारे तो बोले की EVM में गड़बड़ी की, कांग्रेस पार्टी चुनाव आयोग को सबसे अधिक बदनाम करने का काम कर रही है

और इसी पार्टी और इसके मुखिया को प्रणब मुखर्जी ने करारा तमाचा जड़ा है, देश के पूर्व चुनाव आयुक्त रहे एसवाई कुरेशी ने एक किताब लिखी है जिसका नाम है – द ग्रेट मार्च ऑफ़ डेमोक्रेसी

इसी किताब में प्रणब मुखर्जी ने भी अपना एक लेख लिखा है और उन्होंने कहा है की – भारत का चुनाव आयोग पूरी दुनिया में एक मिसाल है, और इस चुनाव आयोग ने पिछले 70 सालों से निष्पक्ष चुनाव करवाए है

प्रणब मुखर्जी ने चुनाव आयोग की तारीफ में कहा की – भारत में कई परिस्तिथियाँ आई और गयी पर चुनाव आयोग ने हर परिस्थति में अपना काम बखूबी किया है और इसी कारण भारत का लोकतंत्र दुनिया में सबसे श्रेष्ट माना जाता है

प्रणब मुखर्जी ने ये भी कहा की – जो लोग क चुनाव आयोग पर निशाना साधते है ऐसे लोग इस श्रेष्ट संस्था को बर्बाद कर देना चाहते है, राजनीती के लिए चुनाव आयोग पर भ्रम न फैलाया जाये

प्रणब मुखर्जी ने ये भी कहा की – ऐसे लोगो को रोका जाना भी जरुरी है जो की अपनी राजनीती के लिए एक श्रेष्ट संस्था को बदनाम करते है, अगर इस संस्था को बदनाम कर दिया गया तब देश का लोकतंत्र असुरक्षित हो जायेगा