Sachin and Gurav of Muzaffarnagar
Sachin and Gurav of Muzaffarnagar
in

मुज़फ्फरनगर – 2013 में 2 जाट भाइयों के क़त्ल केस में मुस्लिम समुदाय के 7 दोषी करार

मुस्लिम समुदाय के लोगो ने पहले इन्ही बहन को छेड़ा, विरोध करने पर इन 2 भाइयों की हत्या कर दी

सपोर्ट करें, इसे शेयर जरुर करें
  • 1.1K
    Shares

2013 मुज़फ्फरनगर दंगा केस में 2 जाट भाइयों का क़त्ल कर दिया गया था, पहले उनकी बहन से छेड़छाड़ की गयी थी, जब दोनों भाइयों ने उसका विरोध किया तो मुस्लिम समुदाय ने उनका क़त्ल कर दिया था

ये 2 भाई थे गौरव चौधरी और सचिन चौधरी जो की मुज़फ्फरनगर के कवल गाँव के रहने वाले थे, इन्ही 2 भाइयों के कत्लेआम के बाद मुज़फ्फरनगर में दंगे हुए थे

मुज़फ्फरनगर की लोकल कोर्ट ने इसी मामले में 7 को दोषी करार दिया है जो की मुस्लिम समुदाय के है, इनमे मुज़म्मिल, मुजस्सिम, फुरकान, नदीम, जहाँगीर, अफज़ल, इक़बाल शामिल है

इन 7 ने मिलकर सचिन और गौरव पर हमला किया और उन दोनों को बर्बरता से मार दिया गया, इसी के बाद मुज़फ्फरनगर में दंगे भी हुए

इन सभी 7 को कोर्ट शुक्रवार को सजा सुनाएगी, अभी इन 7 को कोर्ट ने दोषी ही करार दिया है, FIR के अनुसार दोनों भाइयों को बर्बरता से मारा गया था, इस मामले में जमकर राजनीती भी हुई थी

अजित सिंह जो की जाट नेता बनते है वो जाटों को छोड़कर दिल्ली भाग गए, सपा बसपा ने जमकर मुस्लिम तुष्टिकरण किया

और मुज़फ्फरनगर में जाटों का साथ सिर्फ लोकल भाजपा विधायको ने दिया, उस समय प्रदेश में सपा की सरकार थी

सपा सरकार ने इस मामले में कई निर्दोष हिन्दुओ को भी फंसाया, अखिलेश यादव की सरकार ने हिन्दुओ पर केस बनाये, पर योगी सरकार आने के बाद निर्दोष हिन्दुओ के साथ न्याय हुआ और केस रद्द किये गए