Tejasvi Yadav Government Bungalowअच्छी खबर

चाराचोर के बेटे तेजस्वी ने कर लिया था सरकारी बंगले पर कब्ज़ा, SC ने निकाला, 50 हज़ार का जुर्माना भी ठोका

हमे सपोर्ट करें, इसे शेयर जरुर करें
  • 2.3K
    Shares

चारा चोर लालू यादव के खानदान में जैसे सारे के सारे लोग उनके जैसे ही है, वैसे लालू यादव का ही खून उनके बच्चों में भी है और जैसे बाप वैसे बेटे

मंत्री रहते बड़े बेटे पर मिटटी घोटालों का आरोप लग गया, वैसे ज्यादा दिन मंत्री नहीं रह पाए वरना और भी बहुत गुल खिलाते, वहीँ छोटे बेटे ने तो सरकारी बंगले को अपनी ही संपत्ति समझ लिया था

जब तेजस्वी यादव बिहार में उपमुख्यमंत्री बने थे तब उन्हें 5 देशरत्न मार्ग पटना में सरकारी बंगला मिला था, ये काफी बड़ा और अच्छा बंगला है

पर फिर नितीश कुमार ने RJD के कारनामो से तंग आकर इस्तीफा दे दिया और फिर बीजेपी के साथ मिलकर उन्होंने बिहार में फिर सरकार बना ली तो तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री नहीं रह गए

उन्हें फिर विपक्ष का नेता बनाया गया, और इसके बाद उन्हें विपक्ष के नेता के रूप में एक दूसरा बंगला दे दिया गया, पर उपमुख्यमंत्री वाले बंगले को तेजस्वी ने अपना माल समझ लिया था

उन्होंने उपमुख्यमंत्री वाला बंगला खाली करने से मना कर दिया और पहले पटना की निचली अदालत में मामला ठोका, वहां से फटकार मिली तो पटना हाई कोर्ट गए वहां भी फटकार मिली

तो तेजस्वी यादव ही सुप्रीम कोर्ट गए, ये किसी भी कीमत पर सरकारी बंगला खाली नहीं करना चाहते थे, पर आज मुख्य जज रंजन गोगोई ने तेजस्वी यादव को जोरदार झटका दे दिया

रंजन गोगोई ने तेजस्वी यादव को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया है, और साथ ही इनपर अबतक बंगला न खाली करने के चलते 50 हज़ार रुपए का जुर्माना भी लगा दिया है

अब तेजस्वी यादव जो उपमुख्यमंत्री के सरकारी बंगले को अपना माल समझ बैठे थे उन्हें बंगला खाली करना ही होगा, वैसे इस घटना से एक बात ये भी साफ़ होती है की हमारे यहाँ के नेता किस मानसिकता के है, जो सरकारी संपत्ति पर अपना मालिकाना हक़ ही समझने लगते है, जब उपमुख्यमंत्री नहीं रह गए, तो खुद ही खाली कर देना चाहिए, पर ऐसे नेता देश की जनता की संपत्ति को अपने बाप की संपत्ति समझे बैठे होते है