Twitter appears before indian parliament committeeअच्छी खबर

2 दिन पहले कह रहा था ट्विटर का मालिक, हम नहीं होंगे पेश, आज ट्विटर की टीम बैठी है ठाकुर के कमरे के बाहर

हमे सपोर्ट करें, इसे शेयर जरुर करें
  • 6.6K
    Shares

ट्विटर ने राष्ट्रवादियों के खिलाफ अभियान सा चला रखा था, जिसके बाद कुछ राष्ट्रवादियों ने भी ठान लिया की ट्विटर को भी उसकी औकात बताई जाएगी

इसी के तहत बीते दिनों दिल्ली में राष्ट्रवादियों के एक समूह ने ट्विटर के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रोटेस्ट किया था, जिसके बाद भारतीय संसद की आईटी कमिटी ने ट्विटर को भारतीय संसद के सामने पेश होने को कहा था

क्यूंकि ट्विटर भारत से पैसे कमाता है, ऐसे में वो भारत में निष्पक्ष होकर ही काम कर सकता है, उसपर राष्ट्रवादियों के खिलाफ अभियान के आरोप लगे तो संसद ने ट्विटर को पेश होने को कहा

उसके बाद 9 फ़रवरी को ट्विटर की तरफ से कहा गया की हम भारत की संसद के सामने पेश नहीं होंगे, ट्विटर के मालिक जैक डोरजी ने अपना रंग दिखाया था

उसी दिन संसदीय कमिटी ने कहा था की 11 फ़रवरी को बुलाया है अगर ये लोग तय वक्त पर पेश नहीं होंगे तो फिर आगे की कार्यवाही की जाएगी

आज 11 फ़रवरी है और देखिये आज क्या स्तिथि है

ट्विटर की पूरी टीम अनुराग ठाकुर के कमरे के बाहर इंतज़ार कर रही है, संसदीय कमिटी के प्रमुख अनुराग ठाकुर ही है, जिनको सफाई देनी है

जो ट्विटर आँख दिखा रहा था उसकी टीम आज हमारी संसद की कमिटी के कमरे के बाहर इंतज़ार कर रही है, ये नया भारत है मोदी का भारत, कोई विदेशी कंपनी आज के भारत को आँख नहीं दिखा सकती

भारत अगर ट्विटर को बैन कर दे जैसे की चीन ने बैन किया हुआ है तो 1 ही झटके में ट्विटर के 3 करोड़ इस्तेमाल करने वाले घाट जायेंगे और ट्विटर अमेरिका के शेयर बाज़ार में ऐसे गिरेगा जिसे शायद ही दुबारा सँभालने का मौका मिले, क्यूंकि जताब ट्विटर संभलेगा तब तक कोई अन्य कंपनी बाज़ार पर कब्ज़ा कर चुकी होगी

और इसी कारण भारत की संसद को आँख दिखाने वाले ट्विटर को भारत की संसद ने भी आँख दिखाया और नतीजा आप ऊपर तस्वीरों में देख सकते है, हर विदेशी कंपनी को समझ लेना चाहिए की ये मोदी वाला भारत है, मनमोहन वाला नहीं जिसे आँख दिखा दिया जायेगा