दूसरों के बच्चों को इस्लाम के नाम पर जिहाद में झोंकने वाली असिया ने अपने बच्चे को भेजा पढने विदेश

कश्मीर की एक देशद्रोही मुस्लिम महिला है जिसका नाम है असिया अंद्राबी, ये सिर्फ देशद्रोही ही नहीं बल्कि एक इस्लामिक आतंकवादी भी है, इन दिनों ये दिल्ली की तिहाड़ में बंद है

असिया अंद्राबी भी अन्य कश्मीरी आतंकवादियों की तरह ही पूरी तरह से दोगली निकली है जिसने इस्लाम और जिहाद के नाम पर दूसरों के बच्चों को तो आतंकवादी बनाया पर खुद के बच्चे को विदेश भेज दिया पढने के लिए

सैयद सलाहुद्दीन हो या कश्मीर के अन्य इस्लामिक आतंकी जिन्हें मीडिया अलगाववादी भी बताती है, ये सब एक ही थाली के चट्टे बट्टे है जो इस्लाम के नाम पर आम मुसलमानों के बच्चों को आतंकी बनाते है पर खुद के बच्चों को बढ़िया स्कुल में पढने के लिए विदेश भेजते है

वो भी उस पैसे से जिसे इन्होने मुसलमानों से ही इस्लाम और जिहाद के नाम पर जमा किया होता है, पाकिस्तान जैसे आतंकी देशों से फंडिंग लेकर ये दूसरों के बच्चों को आतंकी बनाते है और अपने बच्चों को विदेश भेजते है बढ़िया स्कुल में पढने के लिए

असिया अंद्राबी नाम की आतंकवादी जो की हाफिज सईद को अपना भाई बताती है उसने भी ये ही कारनामा किया है

असिया अंद्राबी पर खुलासा हुआ है की इसने इस्लाम जिहाद के नाम पर पैसे जमा किये, साथ ही इसने विदेशों से इस्लाम और जिहाद के नाम पर फंडिंग भी ली, उस फंडिंग से इसने कश्मीरी मुसलमानों के बच्चों को आतंक के रास्ते लाया पर अपने बच्चे को उसी पैसे से असिया अंद्राबी ने पढने के लिए विदेश भेज दिया

असिया अंद्राबी ने विदेश से मिले काले फण्ड से कश्मीर में उन्माद मचाया, कश्मीरियों के बच्चों को आतंकी बनाया पर अपने बेटे को इसने मलेशिया में भेज दिया अच्छे स्कुल में पढने के लिए

असिया अंद्राबी ही नहीं बल्कि कश्मीर के सभी आतंकी जिन्हें मीडिया अलगाव वादी बताती है उन सभी ने ये ही कार्य किया है, सभी ने जिहाद और इस्लाम के नाम पर फंडिंग जमा की है, कुछ पैसे इन्होने आतंकवाद पर लगाये है, दूसरों के बच्चों को आतंक के रस्ते पर झोंका है, पर इन सभी ने अपने बच्चों को विदेश भेज दिया है ताकि वो बढ़िया से पढ़े और ऐश से रहे