कुकर्म कर पकड़ाता तो पागल होने का ढोंग कर रिहा हो जाता फिरोज खान, पर इस बार आ गयी इसकी शामत

जिस शख्स की आप ऊपर तस्वीर देख रहे है ये एक छठा हुआ अपराधी है, इसका नाम है फिरोज खान, ये इतना दुर्दांत है जिसके बारे में जानकार आप हैरान हो जायेंगे

फिरोज खान का मुख्य काम था अपराध करना, गलत कारनामे करना, कुकर्म करना, और जब भी ये पकड़ा जाता था तब ये खुद के पागल होने की एक्टिंग करता था

खुद को मानसिक रोगी बताकर, पागल बताकर ये बचता था, रिहा होता था, पर अब फिरोज खान की आख़िरकार शामत आ ही गयी क्यूंकि पुलिस ने इसे अपराध के बाद छोड़ा नहीं बल्कि असली पागलखाने में डाल दिया, फिर ये खुद ही बोल पड़ा की मैं पागल नहीं हूँ

मामला महाराष्ट्र के पुणे का है, जहाँ पर फिरोज खान हर बार कुकर्म करने के बाद खुद के पागल होने की एक्टिंग किया करता था, इसके खिलाफ 49 मामले है

ये छोटे मोटे कुकर्म करता और खुद को पागल साबित करता और बार बार रिहा हो जाता, फिरोज खान ने फिर कुकर्म किया और पुलिस ने इसे पकड़ लिया और इसने फिर पागल होने की एक्टिंग शुरू कर दी

पर इस बार पुलिस ने इसे छोड़ा नहीं बल्कि पुणे के ही ससून जनरल अस्पताल में डाल दिया, ये पुणे का एक पागल खाना है, कुछ दिनों वहां पर फिरोज खान जब रहा तो इसकी पूरी अक्ल ठिकाने आ गयी और ये खुद ही बोल पड़ा की ये पागल नहीं है बल्कि कुकर्म में पकडे जाने के बाद रिहा होने के लिए एक्टिंग किया करता था

ससून जनरल फिरोज खान जब भी पकड़ा जाता था तब ये अपने मुह में एक ब्लेड रख लेता था, उसके बाद धमकी देता था की मैं खिड़की से कूद जाऊंगा, अब इस दुर्दांत बदमाश की पोल खुल गयी है और अब पुणे पुलिस ने इसे अदालत में पेश कर दिया है