एजाज चाहता था की सौम्या उसके साथ संबंध बनाये, सौम्या ने मना किया तो एजाज ने जिन्दा जला दिया

केरल में 15 जून 2019 को एक बड़ी घटना घटित हुई, केरल पुलिस में तैनात सौम्या पुष्पकरण को केरल पुलिस के ही एक अफसर मोहम्मद एजाज ने जिन्दा जला दिया

इस घटना पर पुरे देश में सेक्युलर वर्ग में चुप्पी है, वहीँ मीडिया का बड़ा धडा इस घटना को दबाने मे भी लगा हुआ है, पर सोशल मीडिया के होने के चलते सेक्युलर वर्ग और मीडिया इस खबर को दबा नहीं सकी

सौम्या पुष्पकरण 34 साल की थी और उनके 3 बच्चे थे, उनके पति विदेश में रहते है, वो केरल पुलिस में काम कर रही थी, उनके साथ ही मोहम्मद एजाज भी कार्य कर रहा था

मनोरमा ऑनलाइन की खबर के मुताबिक सौम्या पुष्पकरण अपनी ड्यूटी ख़त्म करके 4 बजे लौट रही थी, मोहम्मद एजाज एक किराये की कार में पहले से उनका इंतज़ार कर रहा था, जैसे ही सौम्या स्कूटी से आई, मोहम्मद एजाज ने उनको टक्कर मारा और उनको नीचे गिरा दिया

एजाज ने फिर सौम्या पर तलवार से हमला कर दिया, और उसके बाद घायल सौम्या पुष्पकरण पर एजाज ने पेट्रोल डाला और उनको जिन्दा जला दिया

सौम्या के एक दोस्त ने बताया की मोहम्मद एजाज को पता चला की सौम्या का पति यहाँ नहीं रहता वो विदेश में रहता है, मोहम्मद एजाज और सौम्या में पहले से बातचीत थी चूँकि दोनों साथ ही पुलिस में थे

जानकारी के मुताबिक मोहम्मद एजाज चाहता था की सौम्या उसके साथ संबंध बनाये और इतना ही नहीं बल्कि सौम्या उसके साथ ही घर में भी रहे, सौम्या ने इस बात से इंकार कर दिया चूँकि वो पहले से शादीशुदा थी और 3 बच्चों की माता भी थी, इसी चलते मोहम्मद एजाज ने सौम्य को मार दिया

सौम्या को जिन्दा जला रहा मोहम्मद एजाज भी 40% जल गया है, अभी उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहाँ पर उसका इलाज चल रहा है, वहीँ सौम्या के बच्चे अब बिन माता के हो चुके है